Subscribe Us

header ads

body kaise badhaye | बॉडी कैसे बढ़ाये

body kaise badhaye

मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए फल और सब्जियों का भरपूर मात्रा में सेवनकरना चाहिए। इनमें विटामिन, मिनरल्स और कई पोषक तत्त्व व प्रोटीन पाए जाते हैं, जोकि मांसपेशियों को मजबूत बनाते हैं।


मूंगफली में जिंक के साथ ही भरपूर मात्रा में वसीय अम्ल पाए जाते हैं। इसके सेवन से कमजोरी की समस्या दूर होती है।

लहसुन का सेवन विशेष फायदेमंद होता है। लहसुन में एंटी-बैक्टीरियल और एंटीवायरल तत्त्व पाए जाते हैं, जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं।

साथ ही, इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी मौजूद होते हैं। यह परिसंचरण तंत्र को भी स्वस्थ बनाता है।

ब्रॉकली खाने के भी चमत्कारिक लाभ हैं। इसमें पाया जानेवाला आइसोथायोसाइनेट्स यत को उत्तेजितकरता है। यह उन एंजाइम्स के निर्माण में सहायताकरता है, जो कैंसर उत्पन्न करनेवाली कोशिकाओं के प्रभाव को कमकरते हैं। इसमें विटामिन सी भी मौजूद होता है। इसीलिए इसे सेहत के लिए बेहतरीन औषधि माना गया है।

ग्रीन टी रोजाना पीने से पेट, फेफड़ों व आंतों की बीमारियां दूर होती हैं। आम और पपीता दोनों में ही भरपूर मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है। आम में अमीनों अम्ल, विटामिन ए, सी और ई, नियासिन, बिटाकेरोटिन, आयरन, कैल्शियम और पोटेशियम पाया जाता है। वहीं, पपीता में पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी व सी के साथ ही एंटीआक्सीडेंट भी मौजूद होते हैं। इन दोनों फलों के छिलकों में बायोफ्लैवेनॉइड्स पाया जाता है। इसीलिए ये फल अपनी खुराक में जरूर शामिल करने चाहिए।

शिमला मिर्च में पाया जानेवाला फ्लैवोनॉइड्स सेहतमंद बनाता है। रोजाना 25 ग्राम सोया प्रोटीन के सेवन से कोलेस्ट्रॉल स्तर को भी कम किया जा सकता है।

टमाटर में मौजूद लाइकोपिन एक प्रातिक रसायन है। यह एंटीऑक्सीडेंट प्रॉस्ट्रेट, फेफड़े और पेट के कैंसर को खत्मकरता है। साथ ही चेहरे की लालिमा और चमक भी बढ़ाता है।

अनार का जूस अपनी खुराक में जरूर शामिलकरना चाहिए। रोजाना एक गिलास अनार का जूस पीने से प्रोस्टेट की समस्या नहीं होती है।

रागी कैल्शियम, जिंक तथा रेशे का अच्छा स्रोत है। इसके नियमित सेवन से डायबिटीज और मोटापे से बचा जा सकता है।

कद्दू में रेशे, विटामिन, खनिज और कई स्वास्थ्यवर्धक एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। इसके नियमित सेवन से ताउम्र त्वचा जवां बनी रहती है।

कम फैटवाले डेयरी उत्पादों जैसे दूध, दही, छाछ आदि में प्रोटीन अधिक मात्रा में होता है इसीलिए इनका नियमित सेवनकरना चाहिए।

अंडे अपनी नियमित खुराक में शामिल करें। मसल्स को मजबूत बनाने के लिए अंडा भी एक उपयोगी औषधि की तरह कामकरता है। इसमें अमीनो एसिड पाया जाता है। अंडे के पीले भाग में प्रोटीन और ल्यूटेन जैस तत्त्व होते हैं, जो शरीर को ताकतवर बनाते हैं।

ड्राय फ्रूट्स और नट्स दोनों में ही भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। ड्राय फ्रूट्स का सेवन नियमित रूप सेकरना चाहिए। इनमें फैट्स, रेशे, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जिनसे मसल्स मजबूत होते हैं।

अंकुरित अनाज सेहत के लिए बहुत अच्छे होते हैं। यह पोषक तत्त्वों से भरपूर होते हैं। साथ ही, यह जिंक जैसे पोषक तत्त्वों का स्रोत हैं, जो कमजोरी की समस्या कम करने में सहायक होते हैं वे मसल्स को मजबूत बनाते हैं।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां