Hamesha jawan kaise rahe | हमेशा जवान कैसे रहे

Hamesha jawan kaise rahe


तनाव से बुढ़ापे के कई रोग युवावस्था में ही सताने लगते हैं। तनाव में संगीत सुनें, अच्छी किताबें पढ़ें। तनाव दूर होगा तो कई प्रकार के रोगों से दूरी बनी रहेगी।


प्रतिदिन कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद अवश्य लें। सुबह जल्दी उठें और रात को सही समय पर सोएँ। स्वस्थ लोगों को दिन में नहीं चाहिए। असमय सोने से भी कई प्रकार की बीमारियां घेर सकती हैं।

प्रतिदिन व्यायाम, योग करें। इससे शरीर स्वस्थ और ऊर्जावान बना रहता है। सुबह टहलना भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है।

हर रोज आंवले का रस, गाय का घी, शहद व मिश्री, इन चारों को 15-15 ग्राम की मात्रा में मिला लें। सुबह-सुबह खाली पेट इस मिश्रण का सेवन करें। इसके बाद 2 घंटे तक कुछ नहीं खाए। नियमित रूप से इसे लेते रहने से कई प्रकार के रोग दूर होते हैं। ये मिश्रण बुढ़ापा दूर रखने के लिए काफी कारगर उपाय है।

प्रतिदिन अनार का सेवन करने से भी जवानी बनी रहती है। प्रतिदिन संतुलित भोजन करें। भोजन में विटामिन, प्रोटीन, खनिज तत्त्वों की भरपूर मात्रा होनी चाहिए। गरिष्ठ भोजन से बचें।


आज की अनियमित जीवनशैली के कारण कई लोग समय से पहले ही बूढ़े दिखाई देने लगते हैं और आईने के सामने जाने से भी डरने लगते हैं। वे लोग ये नुस्खे अपनाएं।

आधा कप पत्ता गोभी का रस तैयारकर लें। इसमें आधा चम्मच दही और 1 चम्मच शहद मिलाकर चेहरे पर लगाएं। सूख जाए तो गुनगुने पानी से धो लें। चेहरे पर प्रातिक रूप से खिंचाव आता है और झुर्रियां दूर होने लगती हैं।

चावल के आटे में थोड़ा सा दूध और गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट से चेहरे पर हल्के-हल्के मालिश करें। कुछ देर बाद इसे गुनगुने पानी से साफकर लें। सप्ताह में कम से कम तीन बार इस प्रक्रिया को दोहराने से काफी फर्क महसूस किया जा सकता है।

सेब को कुचलकर उसमें थोड़ा कच्चा दूध मिलाएं। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। सूख जाए तो धो लें। ऐसा सप्ताह में कम से कम चार बार करें, बहुत जल्दी असर दिखाई देने लगेगा।

दो टमाटर पीस लें। पीसे हुए टमाटर में तीन चम्मच दही और दो चम्मच जौ का आटा मिलाएं। चेहरे पर इस मिश्रण को कम से कम 20 मिनट के लिए लगाकर रखें। यह त्वचा में कसाव लाता है, जिससे झुर्रियां कम होने लगती हैं। इस उपाय को सप्ताह में दो बार कम से कम एक माह तक करें।

रात को सोने से पहले संतरे के दो चम्मच रस में दो चम्मच शहद मिलाकर 20 मिनट तक चेहरे पर लगाकर रखें। इसके बाद साफ कॉटन को दूध में डुबोकर चेहरे की सफाई करें। यह नुस्खा नियमित रूप से अपनाएं, फायदा दिखने लगेगा।

बरगद की हवाई जड़ों में एंटी-ऑक्सीडेंट सबसे ज्यादा पाए जाते हैं, इसलिए ये जड़ें झुर्रियां दूर करने में बहुत उपयोगी हैं। हवा में तैरती ताजी जड़ों के सिरों को काटकर पानी में कुचल लें। इस रस का चेहरे पर लेप करें, झुर्रियां दूर होने
लगेंगी।
 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां