Subscribe Us

header ads

sharir ka dard ayurvedic upay | शरीर का दर्द आयुर्वेदिक उपाय

sharir ka dard ayurvedic upay

लहसुन की एक कली को चबाने के बाद कुल्ला करें। यह नुस्खा दांतों के दर्द को लगभग 10 सेकंड में समाप्तकर देगा। यह नुस्खा पुराने दर्द को भी खत्मकर देता है। 



जीरे को तवे पर सेकें और पीसकर 2-3 ग्राम की मात्रा में गर्म पानी से दिन में तीन बार लें। इसे चबाकर खाने से भी पेटदर्द में लाभ होता है।

अजवाइन को तवे पर सेंक लें और काले नमक के साथ पीसकर पाउडर बनाएं। इस चूर्ण को खाने से पेटदर्द दूर हो जाता है। 

2-3 ग्राम अजवाइन गर्म पानी के साथ दिन में तीन बार लेने से पेट का दर्द दूर होता है। 

हल्दी में थोड़ा नमक मिलाकर ठंडे पानी से फांकी लें। इससे पेट दर्द में तुरंत राहत मिलती है। 

यदि पेट दर्द एसिडिटी से हो रहा हो तो पानी में थोड़ा सा मीठा सोडा डालकर पीने से लाभ होता है।

निर्गुंडी के पत्तों को पानी में उबालें। जब भाप उठने लगे, तब बर्तन पर जाली रख दें। दो छोटे कपड़े पानी में भिगोकर निचोड़ लें। तहकरके एक के बाद एक जाली पर रखकर गर्म करें। सूजन या दर्द के स्थान पर रखकर सेंक करें। चोट-मोंच का दर्द, जोड़ों का दर्द, कमर दर्द और गैस के कारण होनेवाला दर्द तुरंत दूर हो जाता है।

कफ, बुखार और फेफड़ों की सूजन को दूर करने के लिए दो बड़े चम्मच निर्गुंडी के पत्तों का रस और 2 ग्राम पिसी पिप्पली मिलाकर दिन में दो बार सुबह-शाम पिएं। पत्तों को घी लगाकर गर्मकरके पीठ पर या छाती पर बांधने से भी आराम मिलता है। 

सरसों के तेल में अजवाइन और लहसुन जलाकर उस तेल की मालिश करने से हर तरह का बदन दर्द दूर हो जाता है। 

अखरोट के तेल की मालिश करने से हाथ-पैरों की ऐंठन दूर हो जाती है।

अखरोट के तेल की मालिश करने से हाथ-पैरों की ऐंठन-दर्द जल्दी ही दूर हो जाता है।


10 ग्राम कपूर और 200 ग्राम सरसों का तेल शीशी में भरकर उसे बंद करके धूप में रख दें। जब दोनों वस्तुएँ मिलकर एक हो जाएं तब इस तेल की मालिश से हर तरह का बदन दर्द, मांसपेशियों का दर्द शीघ्र ही ठीक हो जाता हैं।

बदन दर्द में हल्दी चूर्ण को दूध के साथ लेने पर शीघ्र ही राहत मिलती है। बदन दर्द से बचने के लिए फल और सब्जियों का सेवन अधिक से अधिक करें।

लहसुन की चार पाँच कलियाँ छीलकर और आधा चम्मच अजवायन के दाने तीस ग्राम सरसों के तेल में डालकर धीमी-धीमी आँच पर पकायें। लहसुन और अजवायन काली पड़ने पर तेल उतारकर छान लें। इस हल्के गर्म तेल की मालिश करने से हर प्रकार के बदन दर्द में आराम मिलता है।

Source code : amazon kindle
 


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां