Tambe ke bartan mein pani peene ke fayde | तांबे के बर्तन में पानी पीने के फायदे

Tambe ke bartan mein pani peene ke fayde

तांबे के बर्तन का जल पीने से त्वचा का ढीलापन दूर हो जाता है। मृत त्वचा
भी निकल जाती है और चेहरा हमेशा चमकने लगता है।

एसिडिटी, गैस या पेंट की अन्य समस्या होने पर तांबे के बर्तन का पानी
अमृत की तरह कामकरता है। आयुर्वेद के अनुसार, तांबे के बर्मन में कम से कम 8 घंटे रखा हुआ जल पिएं। इससे राहत मिलेगी और पाचन की समस्याएं भी दूर होंगी।

 तांबे के बर्तन में रखे पानी को पीने से खून की कमी या विकार दूर हो जाते तांबे के बर्तन में रखे हुए जल को पीने से पूरे शरीर में रक्त का संचार बेहतरीन रहता है। कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में रहता है और दिल की बीमारियां दूर
रहती हैं।

तांबे के बर्तन में स्वच्छ रखे पानी को पीने से डायरिया, दस्त और पीलिया जैसे रोगों के कीटाणु भी मर जाते हैं।

तांबे के बर्तन में रखा पानी पीने से शरीर का अतिरिक्त फैट कम हो जाता है।

शरीर में कोई कमी या कमजोरी भी नहीं आती है।

त्वचा को स्वस्थ बनाना चाहते हैं तो तांबे के बर्तन में रात भर पानी रखें और सुबह उस पानी को पी लें। नियमित रूप से इस नुस्खे को अपनाने से त्वचा चमकने और स्वस्थ लगने लगेगी।

तांबे के बर्तन में रखे पानी को नियमित पीने से थायराइड रोग नियंत्रित होता गठिया की शिकायत होने पर तांबे के बर्तन में रखा जल पीने से लाभ मिलता है।

तांबे के बर्तन में ऐसे गुण आ जाते हैं, जिनसे शरीर में यूरिक एसिड कम हो जाता है और गठिया व जोड़ों में सूजन के कारण होनेवाले दर्द में आराम मिलता है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां