Subscribe Us

header ads

Yaddasht kaise badhaye | याददाश्त कैसे बढ़ाये

Yaddasht kaise badhaye

रोजाना तुलसी के 2-4 पत्ते खाने से बार-बार भूलने की बीमारी दूर हो जाती अलसी के बीज में बहुत सारा प्रोटीन और फाइबर होता है। इन्हें खाने से दिमाग तेज होता है।

चाय में पाया जानेवाला पॉलीफिनॉल दिमाग को संतुलित रखने में मददकरता है। यह दिमाग को शांत और एकाग्र भी बनाता है। ग्रीन टी भी गुणों से भरपूर है। इसमें बहुत अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। इसीलिए इसके नियमित सेवन से शरीर स्वस्थ रहता है। दिन भर में दो से तीन कप ग्रीन टी पीने से याददाश्त बढ़ती है।

केसर का उपयोग अनिद्रा दूर करनेवाली दवाओं में किया जाता है। इसके सेवन से मस्तिष्क ऊर्जावान रहता है।

हल्दी दिमाग के लिए एक अच्छी औषधि है। यह सिर्फ खाने के स्वाद और रंग में ही इजाफा नहीं करती है, बल्कि दिमाग को भी स्वस्थ रखती है। इसके नियमित सेवन से अल्जाइमर रोग नहीं होता है। साथ ही, यह दिमाग की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को रिपेयर करने का भी काम करती है।

दालचीनी के नियमित सेवन से याददाश्त बढ़ती है और दिमाग स्वस्थ रहता है।

अजवाइन की पत्तियों में पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, इसीलिए यह दिमाग के लिए औषधि की तरह काम करती हैं। यही कारण है कि अरोमा थेरेपी में भी इसका उपयोग किया जाता है।

कालीमिर्च में पेपरिन नाम का रसायन पाया जाता है। यह रसायन शरीर और दिमाग की कोशिकाओं को रिलैक्सकरता है। डिप्रेशन में यह रसायन जादू सा कामकरता है। इसीलिए यदि अपने दिमाग को स्वस्थ बनाए रखना चाहते हैं तो खाने में काली मिर्च का उपयोग करें।

खट्टा-मीठा टमाटर खाने के जायके को बढ़ाता है। टमाटर में प्रोटीन,विटामिन, वसा आदि तत्त्व पाए जाते हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है। टमाटर में लाइकोपिन होता है। यह शरीर की फ्री रैडिकल्स से रक्षाकरता है।
साथ ही, यह ब्रेन की सेल्स को डैमेज होने से भी बचाता है।

रोज अखरोट खाने से पोषक तत्त्वों की कमी दूर हो जाती है। साथ ही, सेहत से जुड़ी कई समस्याएं भी खत्म होती है। अखरोट में ओमेगा 3, फैटी एसिड,प्रोटीन, फाइबर और एंटीआक्सीडेंट अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। थोड़ी अखरोट
रोज खाने से याददाश्त बढ़ती है।

स्ट्रॉबेरी अपनी मनमोहक सुगंध के कारण पूरी दुनिया में बहुत लोकप्रिय है। इसका नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। स्ट्रॉबेरी मिल्क शेक, आइसक्रीम आदि का स्वाद भी बढ़ाती है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटीआक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो मेमोरी लॉस से बचाने का कामकरते हैं।

जैतून केवल स्वास्थ्य के लिए ही नहीं, बल्कि चेहरे की खूबसूरती के लिए भी लाभदायक है। जैतून में अच्छी मात्रा में फैट पाया जाता है। इसीलिए यह याददाश्त बढ़ाने का काम भीकरता है।

दही में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, खनिज, लवण, कैल्शियम और फॉस्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। दही का नियमित सेवन करने से कई लाभ होते हैं। यह शरीर में लाभदायी जीवाणुओं की बढ़ोत्तरीकरता है और
हानिकारक जीवाणुओं को नष्टकरता है। इसमें अमीनो एसिड पाया जाता है, जिससे दिमागी तनाव दूर होता है और मेमोरी पावर बढ़ता है।

जायफल को अपने विशेष स्वाद और सुगंध के लिए जाना जाता है। इसमें ऐसे तत्त्व होते हैं, जो दिमाग को स्वस्थ रखने में मददकरते हैं। साथ ही, याददाश्त को बेहतर बनाते हैं।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां